Civil Engineering Kya Hai जानिए फीस, डिप्लोमा, जॉब, कॉलेज, सैलरी,भर्ती

अगर आपने 10वीं और 12वीं कक्षा पास कर ली है और आगे आप सिविल इंजीनियरिंग में करियर बनाना चाहते हैं। तो यहां पर आपके पास सिविल इंजीनियरिंग में काफी अच्छा भविष्य है। तो आइए जानते हैं Civil Engineering Kya Hai और Civil Engineering Kaise kare । इसी के साथ हम बात करेंगे कि अगर आप 10वीं कक्षा पास करने के बाद सिविल इंजीनियरिंग डिप्लोमा करना चाहते हैं तो कैसे करे :

Civil Engineering Kya Hai kaise kare


Civil Engineering Kya

 Hai | सिविल इंजीनियर का अर्थ

सिविल इंजीनियरिंग एक तरह का प्रोफेशनल इंजीनियरिंग कोर्स होता है। इसकी पढ़ाई पूरी करने के बाद आप सिविल इंजीनियर कहलाएंगे।

सिविल इंजीनियर का काम होता है :- घर डिजाइन करना, सडक बनाना,बिल्डिंग का कंस्ट्रक्शन करना, डैम यानी कि बांध बनाना इत्यादि । यह सभी काम सिविल इंजीनियर करता है। उदाहरण के लिए घर की डिजाइन कैसी होगी, घर कैसे बनेगा, इसमें क्या-क्या सामान लगेगा इत्यादि ।


Civil Engineer Kaise Bane 


Civil Engineering Kaise Kare :-  सिविल इंजीनियरिंग 2 तरीके से कर सकते हैं पहला Civil Engineering Diploma तो आईये जानते है सिविल इंजीनियरिंग डिप्लोमा क्या होता है ?


1.  सिविल इंजीनियरिंग डिप्लोमा

Civil Diploma जिसे जूनियर सिविल इंजीनियर भी कहते हैं ,जो कि 3 साल का होता है। जो आप 10th पास करने के बाद कर सकते हैं।

Civil Engineering Diploma College

आप सिविल इंजीनियर डिप्लोमा प्राइवेट और सरकारी कॉलेज से कर सकते हैं सरकारी कॉलेज से डिप्लोमा करने के लिए आपको प्रवेश परीक्षा ( Entrance Exam ) देनी होगी। आप सबसे पहले कोशिश करें कि आपको सरकारी कॉलेज में ही एडमिशन मिल जाए नहीं तो आप प्राइवेट कॉलेज से भी सिविल डिप्लोमा कर सकते हैं।

प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन लेने से पहले आप उस कॉलेज के बारे में अच्छे से जान ले कि वह कितने साल पुराना कॉलेज है और जिस विषय में अपनी इंजीनियरिंग करना चाहते हैं, उसमें कितने बच्चे पढ़ते हैं और पिछले 3 साल में कौन-कौन सी कंपनियां प्लेसमेंट ( Placements ) के लिए आई हैं यह सब जानने के बाद ही आप प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन ले । यह कुछ Colleges के नाम :

•  MSU Baroda - Maharaja Sayajirao University of Baroda

•  LPU Jalandhar - Lovely Professional University

•  JMI New Delhi - Jamia Millia Islamia

•  Government Polytechnic, Nashik

•  Techno India University, Kolkata

•  Aligarh Muslim University, Aligarh

•  IERT Allahabad - Institute of Engineering and Rural Technology

•  Galgotias University, Greater Noida

ज्यादा जानकारी के लिए यहां देखें Civil Engineering Diploma College


Civil Diploma ke Baad Kya Kare

•  सबसे पहले आप सिविल इंजीनियरिंग डिप्लोमा करने के बाद डिग्री कर सकते हैं। अगर आप BTech  करना चाहते हैं तब आप BTech के दूसरे वर्ष में प्रवेश लेकर अपनी डिग्री पूरी कर सकते हैं। इसी के साथ अगर आप BSC Science करना चाहते हैं तो भी आप डिप्लोमा करने के बाद BSC Science के दूसरे वर्ष में एडमिशन ले सकते हैं।

•  अगर आप डिप्लोमा करने के बाद सीधा जॉब करना चाहते हैं तब किसी सरकारी और प्राइवेट कंपनी में जॉब भी कर सकते हैं इसमें आपकी शुरुआती सैलरी 15 हजार महीना से शुरू हो सकती है।

2.  बीटेक इन सिविल इंजीनियरिंग 


बीटेक इन सिविल इंजीनियरिंग एक प्रोफेशनल डिग्री प्रोग्राम होता है जो कि पूरे 4 साल का होता है। सिविल इंजीनियरिंग में बीटेक करने के लिए भारत में सबसे अच्छे और प्रतिष्ठित कॉलेज आईआईटी है। जिस में एडमिशन लेने के लिए आपको जेईई मेंस और जेईई एडवांस का पेपर देना होगा।


यह भी पढ़े :  बीटेक क्या है? IIT से बीटेक कैसे करें?


सिविल इंजीनियरिंग कॉलेज

•  Birla Institute of Technology ( BITS )

•  IITs, NITs, IIITs

•  Lovely Professional University ( LPU )

•  Manipal Institute of Technology ( MIT )

•  Vellore Institute of Technology  ( VIT )


सिविल इंजीनियर की सैलरी कितनी होती है?

सिविल इंजीनियर की सैलरी शुरुआत में 2 लाख से लेकर 3 लाख तक सलाना हो सकती है। यह इस पर भी निर्भर करता है कि आपने सिविल इंजीनियरिंग किस कॉलेज से की है अगर आपने IITs , NITs जैसे प्रतिष्ठित कॉलेज बीटेक की है तब आपको शुरुआत में 5 लाख तक सालाना की सैलरी मिल सकती है जो कि समय के साथ बढ़कर 10 से 15 लाख सलाना तक की जा सकती है।


सिविल इंजीनियरिंग कोर्स कितने साल का होता है?

अगर आप सिविल इंजीनियरिंग डिप्लोमा करते हैं तब यह 3 साल का कोर्स होता है वहीं अगर आप बीटेक इन सिविल इंजीनियरिंग करते हैं तो यह 4 साल का कोर्स होता है। अगर आप सिविल इंजीनियरिंग में बीटेक ( BTech ) के बाद एमटेक ( MTech ) करना चाहते हैं तब आप इसका इंटीग्रेटेड कोर्स जो कि 5 साल का होता है वह कर सकते हैं।


सिविल इंजीनियरिंग के बाद क्या करे?

अगर आपने सिविल इंजीनियर डिप्लोमा या बीटेक पूरी कर ली है तो अब हम जानते हैं कि सिविल इंजीनियरिंग के बाद क्या करें :

सिविल इंजीनियरिंग डिप्लोमा के बाद क्या करें :  अगर आप डिप्लोमा करने के बाद उच्च शिक्षा के लिए जाना चाहते हैं तब आप बीटेक कर सकते हैं। डिप्लोमा करने के बाद आपको बीटेक के दूसरे साल में एडमिशन मिल जाएगा। 

अगर आप सरकारी नौकरी करना चाहते हैं तब आप एसएससी,  पीएसयू ( PSUs ) , कैसी केंद्रीय संस्थानों में नौकरी कर सकते हैं। आगर आपकी सरकारी नौकरी लग जाती है तब आप की शुरुआती सैलरी 30 हजार से शुरू हो सकती है जो बढ़कर 70 हजार तक प्रतिमाह जा सकती है।

बीटेक इन सिविल इंजीनियरिंग के बाद क्या करें :  अगर आप BTech करने के बाद उच्च शिक्षा के लिए जाना चाहते हैं तब आप MTech कर सकते हैं जो कि 2 साल का कोर्स होता है। अगर आप सरकारी नौकरी करना चाहते हैं तब UPSC, SSC, RRB की तैयारी कर सकते हैं।

इसी के साथ आप कॉलेज से सीधी प्लेसमेंट ( Placements ) लेकर प्राइवेट कंपनी में काम कर सकते हैं इसलिए आप जब भी कॉलेज में एडमिशन ले रहे होंगे तो आप उसी कॉलेज में एडमिशन ले जहां से आपको अच्छी प्लेसमेंट मिले । इसके लिए आप कॉलेज की वेबसाइट पर जाकर चेक कर सकते हैं कि उनके पिछले साल की प्लेसमेंट क्या रही है।

सिविल इंजीनियर की फीस कितनी होती है?


अगर आप सिविल इंजीनियरिंग डिप्लोमा करना चाहते है तो इसकी फीस 30 हजार से लेकर 1 लाख तक हो सकती है। अगर Btech In Civil Engineering Fees की बात करें तो अगर आप IIT, NIT, IIIT जैसे कॉलेज से बीटेक करते हैं तब आपकी फीस 8 लाख तक हो सकती है।


अगर प्राइवेट कॉलेज की बात करें तो यहां पर आपको सरकारी कॉलेज से ज्यादा फीस देनी होगी। यहां आपकी फीस 5 लाख से लेकर 15 लाख तक भी जा सकती है। 


सिविल इंजीनियर बनने के लिए कौन सी पढ़ाई करनी पड़ती है?


वैसे तो आप डिप्लोमा करके भी सिविल इंजीनियर बन सकते हैं। लेकिन अगर आप एक प्रोफेशनल डिग्री चाहते हैं तब आपको सिविल इंजीनियरिंग में बीटेक करनी होगी जो 4 साल का कोर्स होता है।


सिविल इंजीनियर भर्ती 


भारत में केंद्र सरकार, राज्य सरकार और बड़ी-बड़ी कंपनियां अपने यहां खाली पड़े इंजीनियर पदों के लिए भर्ती निकालती रहती है। यह कुछ प्रमुख संस्थाएं हैं जो सिविल इंजीनियर की भर्ती करती है :


•  Engineers India

•  Hindustan Construction Company

•  Larsen &Toubro Ltd Corporate Office 

•  IRCON International Limited

•  NBCC

•  Tata Projects Ltd

•  DLF Limited

•  Essar group


अगर आप सिविल इंजीनियरिंग के बारे में और कुछ जानना चाहते हैं तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं।

टिप्पणियाँ